Search Lok Sabha MPs Performance Click here
parliament
CURRENT SESSION
v/s PREVIOUS SESSION
Search Lok Sabha MPs Performance   Click here

दिल्ली के स्टेशनों पर खड़े हैं आधुनिक सुविधा से लैश कोविड केयर कोच

कोरोना महामारी ने दिल्ली को बेदम कर दिया है। जिस गति से दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए दिल्ली को कोरोना कैपिटल भी कहा जाने लगा है। हालांकि सरकार ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने की दिशा में कई कदम भी उठाये हैं। सरकार के उन्ही कदमो में से एक है रेलवे स्टेशनों पर खड़े किये गए कोविड केयर कोच ,जहां संक्रमित लोगो को हर तरह की सुविधाएँ मुहैया कराई जा रही है।
    Vaibhav Srivastav    |    30 Jun 2020  |  09:15 AM

कोरोना कैपिटल के नाम से मशहूर होती दिल्ली की तस्वीर कब बदलेगी यह कोई नहीं जानता। लेकिन दिल्ली के रेलवे स्टेशनों पर खड़े रेलवे के आइसोलेशन कोच से लोगों को आशा बंध रही है कि कम से कम संक्रमित लोगों  का इलाज तो संभव हो जाएगा। इस कोच में  खाना,पानी,बिजली जैसी हर तरह की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। शकूरबस्ती में रेलवे ने 50 कोविड केयर कोच मुहैया कराए हैं। इनमें 4,200 मरीजों को उपचार के लिए रखा जा सकता है। वहीं, आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर भी 267 कोच की व्यवस्था की गई है, जिनमें से 180 कोच पूरी तरह तैयार कंडीशन में प्लैटफॉर्म पर खड़े हैं। कुछ  अन्य कोच यार्ड में भी रखे गए हैं।

Main
Points
कोरोना महामारी से परेशान है दिल्ली वासी
रेलवे कोच बना आइसोलेशन वार्ड
आधुनिक सुविधाओं से लैश कोच

क्या कहते हैं रेलवे अधिकारी

रेलवे के अधिकारियों का मानना है कि पिछले दिनों जब यह आदेश हुआ था कि हर मरीज को शुरुआत में सरकारी क्वारंटीन फेसिलिटी में जाना पड़ेगा, तब जरूर लग रहा था कि अस्पतालों में बेड्स की कमी हो सकती है। ऐसे में रेलवे के इन कोच का पूरा इस्तेमाल करने की नौबत आ सकती है।  लेकिन अब इस फैसले को वापस ले लिया गया है।  ऐसे में जिन मरीजों के घर में पर्याप्त स्पेस और सुविधाएं उपलब्ध हैं, वो घर में ही आइसोलेट करने को तरजीह दे रहे हैं। इसलिए इन कोच में ज्यादा मरीजों को भेजने की जरूरत शायद ना पड़े। यही वजह से अभी बहुत कम संख्या में मरीज इनमें भेजे जा रहे हैं। हालांकि यह एक अच्छा संकेत भी है कि सरकार ने अपनी तरफ से इंतजाम पूरे कर रखे हैं।

सुविधा संपन्न कोच

आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर तैनात किए गए कोविड केयर कोचों में इमरजेंसी कॉल के लिए अलार्म सिस्टम इंस्टॉल किया गया है, ताकि मरीज जरूरत के वक्त अलर्ट भेज सकें। कोविड केयर कोचेज का पिछले दिनों इंस्पेक्शन किया गया  था। उसी दौरान यह सलाह दी गई थी कि इन कोचों में आपातकालीन स्थिति में मरीजों की सहायता के लिए इमरजेंसी अलार्म सिस्टम की भी व्यवस्था की जानी चाहिए। दूसरी ओर डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ जिस कोच में मौजूद रहेंगे, उसमें भी एक डिजिटल डिस्प्ले बोर्ड लगाया गया है।  जिसमें लाइट और साउंड दोनों की व्यवस्था की गई है। यह बोर्ड हर कोच में लगी अलार्म बेल से कनेक्ट होगा। जब भी किसी कोच से कोई मरीज अलार्म बेल बजाएगा, तो डिस्प्ले बोर्ड में कोच का नंबर आएगा। हर कोच में ऑक्ससीजन सिलिंडर रखा गया है इससे मेडिकल टीम, स्टेशन पर तैनात स्टाफ अलर्ट हो पाएंगे।

दिल्ली की हालत

देश के दिल दिल्ली में लगातार कोरोना महामारी का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है।  राजधानी में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 80 हजार पार कर गया गया।  हालांकि इस दौरान 2889  मरीज़ ठीक हुए और अब तक कुल 83,077 मरीज़ ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।  बीते 24 घंटों में 65  मरीजों की मौत हुई और मौत का कुल आंकड़ा 2623 हो गया है।

Tags:
Covid19   |  Delhi   |  CareCoach   |  EmergencyCall   |  DigitalDisplay
और ख़बरें पढ़ने के लिए

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP