Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

मई में छत्तीसगढ़ शनिवार-रविवार रहेगा सम्पूर्ण लॉकडाउन

छत्तीसगढ़ में कोरोना के रोज़ाना बढ़ते मामलों और कटेनमेंट ज़ोन का उल्लंघन करने पर प्रदेश सरकार ने मई महीने में शनिवार- रविवार को पूरे लॉकडाउन का फैसला लिया है

Archna Jha
Archna Jha | 07 May, 2020 | 10:29 am

छत्तीसगढ़ से अब तक कोरोना संक्रमण के तकरीबन 61 मामले सामने आ चुके हैं। जिसके चलते छत्तीसगढ़ सरकार ने अब एक बड़ा फैसला लिया है जिसके अनुसार इस साल मई माह में प्रत्येक शनिवार और रविवार संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू की सलाह पर सीएम भूपेश बघेल ने ये निर्णय लिया है। हालांकि इस दौरान सब्जी, दूध, चिकित्सा सहित अन्य सेवायें चालू रहेंगी। 17 मई के बाद यदि केन्द्र सरकार लॉकडाउन खोलने का फैसला लेती है तब भी छत्तीसगढ़ में इस महीने शनिवार और रविवार को लॉकडाउन चालू रहेगा।

छत्तीसगढ़ सरकार ने इस संदर्भ में विज्ञप्ति जारी की

छत्तीसगढ़ सरकार के जनसंपर्क विभाग ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि- “कोविड-19 से बचाव के लिए सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रधव्ज साहू के सुझाव को सहमति प्रदान कर दी है, जिसमें उन्होने प्रदेश में मई महीने के सभी शनिवार और रविवार को लॉकडाउन करने का सुझाव दिया है। इस लॉकडाउन में सब्जी, दूध, चिकित्सा सहित अन्य अत्यावश्यक सेवाओं को सुचारु रखने के लिए सीएम ने कहा है। कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार का यह निर्णय प्रशंसनीय है।”

Main
Points
छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने शनिवार-रविवार लॉकडाउन का फैसला लिया है
जिले व राज्य की सीमाएं सील होने व कटेनमेंट ज़ोन घोषित होने के बाद भी होते उल्लंघन को देखते हुए लिया गया है ये फैसला

क्यों लिया गया ये फैसला

बता दे कि छत्तीसगढ़ में बाहर से बिना ई-पास और चोरी-छिपे आने वालों की संख्या रोज़ बढ़ती ही जा रही है। ऐसे में छत्तीसगढ़ के जिलों और राज्य की सीमाएं सील होने का दावा झूठा साबित होता जा रहा हैं। मज़दूर नदी-नाले, जंगल पार कर राज्य की सीमाओं में घुस रहे हैं वहीं बिना ई-पास वाले भी बे रोक-टोक इधर-उधर घूम रहे हैं। दूसरी ओर भिलाई में  मंगलवार देर शाम कोरोना पॉज़िटीव मिली महिला भी कई वाहनों में लिफ्ट लेकर महाराष्ट्र से लौटी थी।

वहीं रायपुर को कंटेंनमेंट ज़ोन घोषित किये जाने के बाद भी वहाँ कॉलेज खोलने पर कलेक्टर ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। बता दें कि कॉलेज प्रिंसिपल को जिला मजिस्ट्रेट की ओर से जारी नोटिस के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। दरअसल रायपुर में एक युवक के कोरोना पॉज़िटीव पाये जाने पर प्रशासन ने जिले को कटेंनमेंट जोन घोषित किया था, इसके बावजूद भी शासकीय नागार्जुन स्नातकोत्तर विज्ञान महाविघालय को न केवल खोला गया बल्कि तमाम कॉलेज स्टाफ को आने का आदेश दे डाला। बता दें कि छत्तीसगढ़ के कोरोबा जिले से सबसे अधिक 28 कोरोना संक्रमितों के मिलने की ख़बर आई है, वहीं सूरजपुर से 6, रायपुर से 7, दुर्ग से 9, कवर्धा से 6 जबकि राजनाद गांव और बिलासपुर से एक-एक कोरोना पॉज़िटीव मरीज़ सामने आ चुके हैं

Tags:
Chattisgarh   |  Lockdown   |  Saturday   |  sunday

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP