Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

कांग्रेस टूट की कगार पर, सोनिया ने संभाला मोर्चा

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक के बाद नाराज नेताओं की बैठक से सोनिया गांधी की नींद उड़ गई है। उन्हें लगने लगा है कि रहते इस विवाद को नहीं रोका गया तो पार्टी टूट सकती है और फिर इसे बचाना आसान नहीं होगा। ऐसे में सोनिया ने खुद मोर्चा संभालते हुए नाराज नेताओं से बातचीत कर रही है।

PB Desk
PB Desk | 26 Aug, 2020 | 10:25 am

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक के बाद भी जारी सियासी घमासान को थामने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने खुद मोर्चा संभाल लिया है। बैठक के बाद चिट्ठी लिखने वाले नेताओं की राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद के घर बैठक के बाद पार्टी हाईकमान को टूट का डर सताने लगा है, जिसके बाद सोनिया गांधी ने गुलाम नबी आजाद से फोन पर बातचीत की है। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कल वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद से फोन पर बातचीत की। सोनिया ने आजाद सहित 23 नेताओं द्वारा लिखी गई चिट्ठी को भी संज्ञान में लेने की बात कही है। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच बातचीत सकारात्मक रही।

Main
Points
कांग्रेस में बढ़ी टूट की सम्भावना
राहुल के आरोप से कई नेता नाराज
सोनिया और राहुल अब कर रहे सबसे बात

राहुल ने भी की बातचीत

सोनिया गांधी के अलावा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गुलाम नबी आजाद से फोन पर बातचीत की। इससे पहले, राहुल ने कपिल सिब्बल से बातचीत की थी। राहुल ने आजाद के पत्र को पार्टी संगठन द्वारा संज्ञान लेने और सीडब्ल्यूसी के फैसले के अनुरूप काम करने की बात कही। ऐसे में साफ हो गया है कि जिन नेताओं ने सोनिया गांधी को पत्र लिखा था पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी अब उस पत्र पर अमल करने को तैयार है।

सिब्बल के ट्वीट से बढ़ी हलचल

बता दें कि सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के घर चिट्ठी लिखने वाले नेताओं की बैठक हुई। इस बैठक के बाद वरिष्ठ कांंग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा कि मेरे लिए पद से बड़ा देश है। सिब्बल का यह ट्वीट काफी गंभीर माना गया है। इसके अलावा कई और नेताओं ने भी अलग-अलग ट्वीट कर पार्टी को सोंचने पर मजबूर किया है।

इन नेताओं ने किया था हस्ताक्षर

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव को लेकर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को 23 नेताओं ने पत्र लिखा था। पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल, शशि थरूर, मनीष तिवारी, आनंद शर्मा, पीजे कुरियन, रेणुका चौधरी, मिलिंद देवड़ा और अजय सिंह शामिल हैं। इनके अलावा सांसद विवेक तन्खा, सीडब्ल्यूसी सदस्य मुकुल वासनिक और जितिन प्रसाद, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, राजेंद्र कौर भट्ठल, एम वीरप्पा मोइली और पृथ्वीराज चव्हाण ने भी पत्र पर दस्तखत किए हैं। उत्तरप्रदेश प्रदेश कांग्रेस समिति के पूर्व अध्यक्ष राज बब्बर, दिल्ली पीसीसी के पूर्व अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली, हिमाचल प्रदेश पीसीसी के पूर्व अध्यक्ष कौल सिंह ठाकुर, बिहार अभियान के मौजूदा अध्यक्ष अखिलेश सिंह, हरियाणा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष कुलदीप शर्मा, दिल्ली विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष योगनंद शास्त्री, पूर्व सांसद संदीप दीक्षित के हस्ताक्षर भी पत्र पर हैं।

Tags:
Congress   |  Sonia Gandhi   |  Rahul Gandhi   |  Tweet

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP