Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

लॉकडाउन 2.0 पर हो सकता है बड़ा ऐलान, पीएम मोदी मंगलवार को करेंगे देश को संबोधित


Ankit Mishra
Ankit Mishra | 13 Apr, 2020 | 5:25 pm

पीएम मोदी मंगलवार सुबह 10 बजे देश को संबोधित करेंगे। माना जा रहा है इस दौरान पीएम की ओर से कोरोना से लड़ने के लिए नई रणनीति का एलान हो सकता है। लॉकडाउन के दौरान देश की अर्थव्यवस्था और आमजन पर पड़ रहे प्रभाव को देखते हुए इस रणनीति को तैयार किया गया है। लॉकडाउन लागू होने के बाद से ही देश की अर्थव्यवस्था पूर्णतः ठप है। इससे बड़े उद्योग तो प्रभावित हुए ही पर ज़्यादा प्रभाव लघु उद्योगों पर देखा गया है। इन उद्योगों के प्रभावित होने से असंगठित मजदूरों को भी रोजी रोटी तलाशने में परेशानी हो रही है।

Main
Points
पीएम मोदी कल कर सकते हैं बड़ा एलान
कोरोना के खिलाफ केंद्र सरकार की नई रणनीति
देश को रेड, ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन में बांटा जा सकता है
सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों को खोलने की मिलेगी छूट

क्या है रणनीति

शनिवार को मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री की बैठक में इस रणनीति पर चर्चा हुई थी। लॉकडाउन के दौरान लागू होने वाली इस रणनीति के तहत केंद्र सरकार कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या के आधार पर देश को तीन ज़ोन (रेड, ऑरेंज और ग्रीन ज़ोन) में बांट सकती है। इस ज़ोन में आने वाले क्षेत्रों के आधार पर सरकार उन क्षेत्रों के लिए कार्य योजना तैयार कर रही है। इसके तहत सुरक्षित क्षेत्रों में कुछ सीमित सेवाएं उपलब्ध कराई जा सकती हैं।

ज़ोन के आधार पर होगी सख्ती

जिन ज़िलों में बड़ी संख्या में कोरोना के मामले दर्ज किए गए हैं या जिन क्षेत्रों को हॉटस्पॉट घोषित किया गया है, उन्हें रेड ज़ोन में रखा जाएगा। इस ज़ोन में किसी भी तरह की कोई गतिविधि नहीं होगी। 75 ऐसे ज़िले चिन्हित किये गए है जो पूर्णतः सील रहेंगे।

वहीं ऑरेंज ज़ोन के तहत वो क्षेत्र आएंगे जिन क्षेत्रों में कुछ संक्रमित मरीज़ पाए गए है पर अभी स्थिति नियंत्रण में है। इन क्षेत्रों को ऑरेंज ज़ोन में रखा जाएगा। इस ज़ोन में सीमित रूप से सार्वजनिक परिवहन को खोलने समेत कृषि उत्पादों की कटाई जैसी न्यूनतम गतिविधियों की अनुमति दी जा सकेगी। 

आखिर में ग्रीन ज़ोन में वह क्षेत्र होंगे जहां कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामना नहीं आया है।

ग्रीन ज़ोन को मिलेगी अधिकतम छूट

लगभग 475 ऐसे ज़िले हैं जो ग्रीन ज़ोन के श्रेणी में आ सकते हैं। इन ज़िलों में सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों को खोलने की छूट मिलेगी। लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग के इंतजामों के अलावा कर्मचारियों के रहने की सुविधा मुहैया कराना जरूरी होगा। सूत्रों के मुताबिक, राज्यों के मुख्यमंत्री अंतर-राज्यीय गतिविधि होने देने के पक्ष में नहीं हैं। लेकिन शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है। बैठक के दौरान राज्यों के मुख्यमंत्रियों का तर्क था कि यह राजस्व का प्रमुख स्रोत है।

राज्य पहले से ही सक्रिय

हालांकि कई राज्यों में इसी आधार पर प्लान तैयार कर क्रियान्वयन में भी लाया जा चुका है। कोरोना संकट को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑपरेशन शील्ड की घोषणा की, जिसके तहत रेड ज़ोन और ऑरेंज ज़ोन घोषित किए गए। रेड ज़ोन घोषित इलाकों में तेजी से सैनिटाइजेशन कार्य चलाया जा रहा

Tags:
Corona   |  fightagainst corona   |  goi   |  Delhi gov

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP