Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

कोरोना से प्रभावित केरल के सांसदों ने बढ़ाया हाथ, कुछ बैठे हैं चुपचाप!


Parliamentary Business Team
Parliamentary Business Team | 24 Mar, 2020 | 12:00 am

चीन से शुरू हुई महामारी का सफर दुनिया के 180 से ज्यादा देशों को अपने चपेट में ले चुका है। कोरोना से अभी तक 15000 से ज्यादा संख्या में लोग जान गवां चुके है। 30 जनवरी को भारत में पहला मामला सामने आया था। यह आकंड़ा आज सुबह 8:45 तक 446 पहुँच चुका है।(स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार)

देश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में 95 पॉजिटिव मामलों के साथ केरल दूसरे पायदान पर है। केरल सरकार की माने तो इनमें से 91 मरीज़ों का इलाज अभी चल रहा है वहीं 4 मरीजों को सफलतापूर्वक इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है।

कोरोना वायरस का सबसे पहला मामला 30 जनवरी को केरल के त्रिशूर जिले में सामने आया था।

 

अभी तक भेजे गए 4291 सैंपल में से 2987 का परिणाम नेगेटिव रहा है। केरल में पिछले 24 घंटों में 28 नए मामले सामने आए है। राज्य में सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में कासरगोड में 35 ,एर्नाकुलम में 16, कन्नूर में 15, तिरुवनंतपुरम कोट्टायम मलप्पुरम में 4 कोरोना के पॉजिटिव मामले आये है।

राज्य और केंद्र सरकार तो अपने स्तर पर इस महामारी से निपटने का प्रयास कर रही है लेकिन इन क्षेत्रों के सांसदों के योगदान की बात की जाए तो जानते हैं कि सांसदों ने अपने लोकसभा के स्तर पर कोरोना से लड़ाई के लिए क्या-क्या कदम उठाये।

Main
Points
भारत में कोरोना संक्रमण के कुल 446 मामले
95 संक्रमित मामलों के साथ केरल दूसरे पायदान पर
35 कोरोना पॉजिटिव मामलों के साथ कासगोड सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र
एबी ईडन ने सहायता राशि के रूप में सांसद निधि से दिए 1 करोड़ रूपये
पिछले 24 घंटे में 28 नए मामले

राजमोहन उन्नीथन (कासरगोड,)

कासरगोड केरल का वह क्षेत्र है जो इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। 35 पॉजीटिव मामलों के अलावा 61 ऐसे लोग भी अस्पताल में भर्ती है जिनके अंदर कोरोना के लक्षण देखे गए है।

ऐसी भयावह स्थिति के बीच कासरगोड सांसद के प्रदर्शन को देखे तो लोकसभा में 1 दफा कोरोना के मुद्दे को तो जरूर उठाया पर उनके सवाल के केंद्र में विदेश में फंसें नागरिक ही रहे। कासरगोड का जिक्र कहीं नहीं आया। जब हमने इनके सोशल मीडिया एकाउंट को खंगाला तो सिर्फ जनता से की गई एक वीडियो अपील ही मिली। ऐसा लगता है कि सांसद महोदय की सांसद निधि (MPLAD) खाते ने भी खुद को आइसोलेट कर रखा है। 5 करोड़ के इस निधि से अभी तक एक भी पैसा खर्च नही हुआ है।

ईबी इडेन (एर्नाकुलम)

एर्नाकुलम से सांसद ईबी इडेन ने सांसद निधि से 1 करोड़ धनराशि एमएमसी मेडिकल कॉलेज को चिकित्सा उपकरण खरीदने हेतु प्रदान की है। इसके अलावा लोकसभा में भी लगातार सांसद कोरोना के मुद्दे पर सवाल उठाते रहे हैं। अपने क्षेत्र वासियों की मदद के लिए इन्होंने वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर से भी मुलाकात की थी।

के. सुधाकरन (कन्नूर)

के सुधाकरन का योगदान भी इस महामारी के खिलाफ बहुत सीमित रहा है। सोशल मीडिया पर एक-दो पोस्ट के अलावा लोकसभा में फिलीपींस में फँसे छात्रों का मुद्दा उठाया। अपने क्षेत्र वासियों के लिए एक 24*7 इमरजेंसी नंबर जरूर जारी कर रखा है लेकिन संसद निधि से इनका भी योगदान शून्य रहा है।

एंटो एंटोनी (पथानामथिट्टा)

पथानामथिट्टा सुर्खियों में तब आया जब वहाँ के एक परिवार ने विदेश से लौटने के बाद एयरपोर्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग नही कराई और बाद में कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इस घटना के बाद अच्छा खासा बवाल भी हुआ था। जिसके बाद इसे कानूनन जुर्म घोषित कर दिया गया।

बात अगर पथानामथि के सांसद की करे तो इनके सोशल मीडिया एकाउंट से पता चलता है की प्रधानमंत्री द्वारा जनता कर्फ्यू के आह्वान पर भरपूर साथ निभाया। जिले में कोरोना से निपटने के लिए लगातार बैठकें भी करते रहे है। सोशल मीडिया के जरिये जनता को जागरूक करने में भी अग्रणी रहे है। लेकिन सांसद निधि (MPLAD) से इनका भी योगदान शून्य ही रह है। इस साल इन्होंने आने सांसद निधि का एक रुपया भी खर्च करना मुनासिब नही समझा है।

शशि थरूर (तिरुवनंतपुरम)

तिरुवनंतपुरम से 3 बार के सांसद शशि थरूर सोशल मीडिया के सहायता से कोरोना के खिलाफ जनता में लगातार जागरूकता फैलाते देखे जाते है। पिछले दिनों इन्होंने प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिख छोटे और मध्यम कारोबारियों को इस महामारी से होने वाले नुकसान पर ध्यान देने का आग्रह भी किया।

इनके सोशल मीडिया एकाउंट की  माने तो इस महामारी के संबंध में वह अपने क्षेत्र के जिला प्रशासन से लगतार संपर्क में बने हुए है। हालांकि सांसद निधि से योगदान के मामले में इन्होंने ने भी कोई योगदान नही दिया है।

Tags:

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP