Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

कोरोना से भारत की आर्थिक राजधानी तबाह, सांसदों ने सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों को आगाह किया


Parliamentary Business Team
Parliamentary Business Team | 25 Mar, 2020 | 12:00 am

चीन से शुरू हुई महामारी का सफर दुनिया के 180 से ज्यादा देशों को अपने चपेट में ले चुका है। कोरोना से अभी तक दुनिया भर में 19000 से ज्यादा संख्या में लोग जान गवां चुके हैं, वहीं 4.25 लाख लोग इससे संक्रमित हो चुके है। 

भारत मे सर्वप्रथम कोरोना संक्रमण का मामला 30 जनवरी को पाया गया था लेकिन आज यह आकंड़ा सुबह 9:15 तक केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आँकड़े के अनुसार 519 पहुँच चुका है।

यूँ तो कोरोना वायरस का पहला मामला केरल में आया था लेकिन आज आलम यह है कि कुल संक्रमित मामलों की संख्या में महाराष्ट्र केरल से भी आगे निकल गया है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि अभी तक कुल संक्रमित मामलों की संख्या 116 है जिनमें 14 मरीज़ों का इलाज लगभग पूरा हो चुका है और 3 लोगों की मृत्यु इस महामारी के कारण हुई है। राज्य के अत्यधिक प्रभावित क्षेत्रों में मुम्बई (45), पुणे (18), पिपली चिंचवाड़ (12) और सांगली (9) शामिल हैं। इसके अलावा सातारा, नवी मुंबई, कल्याण, डोम्बिवली, नागपुर और ठाणे में भी यह संक्रमण फैल चुका है।

इस संक्रमण के मद्देनजर महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही राज्य के चार ज़िले मुम्बई, पुणे, नागपुर और पीपली चिंचवाड़ में कर्फ्यू लगा दिया था। इसका असर शेयर बाजार पर भी देखने को मिला जब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक सेंसेक्स मार्च में ही 3500 अंकों की गिरावट के साथ दूसरी बार लोअर सर्किट को छू गया।

लोगों की मदद और जागरूकता फैलाने के लिये फिल्म जगत भी खुलकर सामने आया और जनता कर्फ्यू में भी हिस्सा लिया। इस महामारी से फिल्म जगत को भी भारी नुकसान पहुंचा है।

त्वरित लॉकडाउन की वजह से सबसे अधिक दिक्कत उन लोगों को उठानी पड़ी जो अन्य राज्यों से आकर महाराष्ट्र के विभिन्न शहरों में काम करते थे। इससे सबसे ज्यादा प्रभावित असंगठित क्षेत्र हुआ है। हालाँकि राज्य सरकार ने आश्वासन ज़रूर दिया है कि घबराने की बात नहीं है और सरकार ज़रूरत की हर वस्तु मुहैया करवाएगी।

महाराष्ट्र से आने वाले 48 सांसदों में से प्रमुख सांसदों के सोशल मीडिया एकाउंट्स खंगालने पर उनके द्वारा सांसद निधि से कोरोना के ऊपर खर्च की गई राशि का कोई ब्यौरा नहीं मिला। हालांकि सारे सांसदों ने सोशल मीडिया का इस्तेमाल कोरोना जैसी महामारी के खिलाफ़ अभियान चलाने में भरपूर किया है। एक प्रतिनिधि के तौर पर वह जानता के साथ खड़े दिखाई देते है।

महाराष्ट्र से शिवसेना सांसद अरविंद सावंत, एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले और भाजपा सांसद पूनम महाजन समेत सभी सांसदों ने केंद्र द्वारा जारी 21 दिन के लॉकडाउन का समर्थन किया है और जनता से इसका पालन करने की अपील भी की।

Tags:

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP