Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

आपातकालीन मामलों में इस्तेमाल करें रेमेडिसविर एफडीए ने जारी किया प्राधिकरण

अमेरिका की फूड एंड ड्रग एजेंसी ने रेमेडिसविर दवा की कोरोनावायरस के मामलों में आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। उसके मुताबिक इसके शुरुआती परीक्षण आशापूर्ण थे और गंभीर रूप से बीमार कोरोनावायरस के मरीजों पर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

Manmeet Singh
Manmeet Singh | 02 May, 2020 | 6:24 pm

संयुक्त राज्य अमेरिका की खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने कोरोना वायरस से गंभीर रूप से पीड़ित वयस्कों और बच्चों के उपचार के लिए एंटीवायरल ड्रग रेमेडिसविर के इस्तेमाल हेतु लिए एक आपातकालीन प्राधिकरण जारी किया है। हालांकि COVID-19 के इलाज में रीमेडिसविर का उपयोग और उसकी प्रभावशीलता के बारे में सीमित जानकारी है, लेकिन अमेरिका के ही नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के द्वारा किए गए परीक्षण में परिणाम सकारात्मक थे।

Main
Points
रेमेडिसविर के आपातकालीन इस्तेमाल को मिली मंजूरी
अमेरिका के फूड एंड ड्रग एजेंसी ने जारी किया प्राधिकरण
शुरुआती परीक्षण के परिणाम से संतोषजनक

एच एचएस के सचिव एलेक्स एजर ने कहा कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के क्लिनिकल परीक्षण में रिडेमिसविर के आशाजनक परिणाम के बाद दवा का आपातकालीन प्राधिकरण  COVID-19 से निपटने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है और ट्रम्प प्रशासन का एक और उदाहरण है जो जीवन को बचाने के लिए विज्ञान का हर संभव उपयोग करते हैं।

वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक फूड एंड ड्रग एजेंसी के कमिश्नर Stephen का कहना है कि कोरोनावायरस की दवा उपलब्ध कराने के लिए फूड एंड ड्रग एजेंसी पहले ही दिन से प्रतिबद्ध है।

आज की कार्रवाई इनोवेटर्स और शोधकर्ताओं के साथ मिलकर हमारे प्रयासों का एक महत्वपूर्ण कदम है, जिससे बीमार रोगियों को समय पर नए उपचारों के लिए उचित उपचार उपलब्ध कराया जा सके।

वर्तमान स्थिति को देखते हुए जब कोरोना वायरस की कोई भी दवा उपलब्ध नहीं है ऐसे में रेमेडिसविर ही आपातकालीन स्थिति में इस्तेमाल करने के लिए सही माना गया। इयूए के लिये आवश्यक है कि तथ्य पत्रक जो COVID-19 के उपचार में रेमेडिसविर का उपयोग करने के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करते हैं, उन्हें स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं और रोगियों को उपलब्ध कराया जाए, जिसमें खुराक निर्देश, संभावित दुष्प्रभाव और ड्रग इंटरैक्शन शामिल हैं। रेमेडिसविर के संभावित दुष्प्रभावों में शामिल हैं: यकृत एंजाइमों का बढ़ा हुआ स्तर, जो यकृत में कोशिकाओं की सूजन या क्षति का संकेत हो सकता है और निम्न रक्तचाप, मतली, उल्टी, पसीना और कंपकंपी शामिल हो सकती है।

नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ को मिले थे सकारात्मक परिणाम

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ ने शुरुआती आकलन में पाया था कि कोरोना से गंभीर रूप से बीमार जिन मरीज़ो का इलाज   remdesivir नामक दवा से हुआ है वे जल्दी ठीक हो रहे हैं।  इस दवा का परीक्षण 21 फरवरी को शुरू हुआ था जिसमें 1063 मरीज शामिल थे मरीज शामिल थे। कोरोनावायरस से संबंधित अमेरिका में यह पहला परीक्षण था। इस परीक्षण को नाम दिया गया adaptive  covid19 treatment trial जो National Institute of allergy and infectious disease allergy and infectious disease द्वारा प्रायोजित था।

 क्या कहते हैं शुरुआती आंकड़े

शुरुआती आंकड़ों की माने तो संस्थान के मुताबिक remdesivir से जिन मरीज़ो का इलाज हुआ है वह 31% ज्यादा तेजी से स्वस्थ हो रहे हैं मुकाबले उनके जिनका इलाज प्रायोगिक तरीके से चल रहा है। remdesivir दवा का परीक्षण कोरोना के जिन जिन मरीजों पर हुआ वह मात्र 11 दिन में ही स्वस्थ हो गए मुकाबले उनके जिनका इलाज प्रयोग इस तरीके से तरीके से हुआ उन्हें पूर्णता स्वस्थ होने में 15 दिन का वक्त लगा  और remdesivir  की मृत्यु दर भी मात्र 8% है।

Adaptive covid19 treatment trial  का पहला  परीक्षण एक अमेरिकी नागरिक पर किया गया। यह अमेरिकी नागरिक जापान के योकोहामा में डायमंड प्रिंसेस नामक जहाज पर फंसा हुआ था।

Tags:
fda   |  nih   |  USA   |  Corona Viru

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP