Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

पान सिंह तोमर ज़िन्दगी की रेस हार गया


Srishti Narwal
Srishti Narwal | 29 Apr, 2020 | 2:19 pm

मंगलवार को इरफ़ान खान की तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल के आईसीयू में भर्ती करवाया गया था। 

उनके एक प्रवक्ता ने भरे मन से बताते हुए कहा , "मुझे यकीन है कि मैं हार चुका हूँ- अभिनेता इरफान खान ने 2018 में अपने नोट में यह दिल छू लेने वाली बात लिखी थी। जब वो कैंसर की बीमारी से लड़ रहे थे, और आज यह दुखद ख़बर हम देख रहे हें कि वो हमारे बीच नहीं रहे."

Main
Points
54 वर्षीय बॉलीवुड अभिनेता इरफ़ान खान का निधन
इरफ़ान न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से काफी लंबे समय से पीड़‍ित थे
पिछले साल इरफ़ान ख़ान लंदन से इलाज करवाकर लौटे थे

"इरफ़ान एक मजबूत इरादों वाले इंसान थे जिन्होंने अंत तक लड़ाई लड़ी। उन्होंने हमेशा अपने क़रीब आने वाले लोगों को प्रेरणा दी। 2018 में असमान्य कैंसर होने का पता लगने के बाद से उन्होंने उनपर आई चुनौतियों का जमकर मुक़ाबला किया और अपने जीवन को संभाले रखा। वो अपने परिवार को जिन्हें उन्होंने हमेशा बहुत प्यार किया, छोड़कर जन्नत चले गए हैं। उन्हें अपने परिवार का भरपूर प्यार मिला। वो अपने पीछे एक विरासत छोड़ गए हैं। हम सब उनकी आत्मा की शांति की दुआ करते हैं।"

इरफ़ान किस बीमारी का सामना कर रहे थे?

पिछले साल इरफ़ान ख़ान लंदन से इलाज करवाकर लौटे थे और लौटने के बाद वो कोकिलाबेन अस्पताल के डॉक्टरों की देखरेख में ट्रीटमेंट और रुटीन चेकअप करवा रहे थे। बताया जा रहा है कि फ़िल्म 'अंग्रेज़ी मीडियम' के दौरान भी अक्सर उनकी तबीयत बिगड़ जाया करती थी। ऐसे में कई बार पूरी यूनिट को शूट रोकना पड़ता था और जब इरफ़ान बेहतर महसूस करते थे, तब शॉट फिर से लिया जाता था।आपको बता दे हाल ही में इरफ़ान ख़ान की मां सईदा बेगम का जयपुर में निधन हुआ था।

लॉकडाउन के चलते इरफ़ान अपनी मां की अंतिम यात्रा में शरीक नहीं हो पाए थे और वीडियो कॉल के ज़रिए ही मां के जनाज़े में श‍िरकत की थी।

बताया गया जा रहा है कि 54 वर्षीय इरफ़ान न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से काफी लंबे समय से पीड़‍ित थे जिसकी वजह से वह विदेश में इस बीमारी का इलाज करवा रहे थे और कुछ दिनों पहले ही मुंबई वापस लौटे थे।

दो साल पहले मार्च 2018 में इरफ़ान को अपनी बीमारी का पता चला था। जिसके बाद खुद इरफ़ान ने अपने चाहने वालों को यह दुःख भरी ख़बर दी थी।

उन्होंने ट्वीट किया था, "ज़िंदगी में अचानक कुछ ऐसा हो जाता है, जो आपको आगे लेकर जाता है। मेरी ज़िंदगी के पिछले कुछ दिन ऐसे ही रहे हैं। मुझे न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर नामक बीमारी हुई है। लेकिन, मेरे आसपास मौजूद लोगों के प्यार और ताक़त ने मुझमें उम्मीद जगाई है।"

बीमारी के बारे में पता चलते ही तुरंत इरफ़ान ख़ान इलाज के लिए लंदन चले गए थे। और वहां क़रीब एक साल रहे और फिर मार्च 2019 में भारत लौटे थे।

इरफ़ान ख़ान की चर्चित फ़िल्में के नाम हैं-- सलाम बॉम्बे, स्लमडॉग मिलेनियर, द लंच बॉक्स, तलवार, लाइफ़ ऑफ़ पाई, हिंदी मीडियम, ऑन, ब्लैकमेल, अंग्रेजी मीडियम, पान सिंह तोमर, मक़बूल, हासिल.

इरफ़ान ख़ान को अभिनय के लिए 2011 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था.

Tags:
irfan khan   |  angre zimedium   |  rip   |  death   |  actor

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP