Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

संसद में सवाल-जवाब और डिबेट करने में पीछे रहे हैं कार्ति चिदंबरम

कार्ति चिदंबरम कांग्रेस के बरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे हैं । तमिलनाडु की शिवगंगा लोकसभा सीट से पहली बार सांसद चुने गए कार्ति यूं तो कई मामलों को लेकर अपनी प्रतिक्रिया भी देते नजर आते हैं। लेकिन क्या वह संसद में भी उतने ही एक्टिव रहते हैं या नहीं चलिए जानते हैं।

PB Desk
PB Desk | 08 Feb, 2021 | 8:15 pm

कार्ति चिदंबरम के पिता पी.चिदंबरम संसद के अंदर हो या बाहर बीजेपी पर जमकर हमलावर दिखते हैं । वही कार्ति चिदंबरम  भी बीजेपी और केंद्र सरकार को निशाने पर लेते रहते हैं । अगर बात करे संसद में कार्ति चिदंबरम के कामकाज की तो कार्ति चिदंबरम लोकसभा में लगभग 94 दिन चले संसद में करीब 78 दिन उपस्थित रहे हैं । उनकी अटेंडेंस करीब 82.98% रही है । वहीं रैंकिंग की बात करें तो कार्ति चिदंबरम की लोकसभा में उपस्थित की रेंकिंग 20वें स्थान पर रही है ृ।

Main
Points
शिवगंगा संसदीय सीट से सांसद हैं कार्ति चिदंबरम
सांसद जी न सवाल करते हैं न ही डिबेट में लेते हैं हिस्सा
ओवरऑल रैंकिंग में कार्ति चिदंबरम 362वें नंबर पर

संसद में सवाल पूछने में बहुत पीछे 

सदन में सवाल पूछने की बात हो तो कांग्रेस सांसद इसमें बहुत पीछे दिखते हैं। कुल 395 सवालो में से कार्ति चिदंबरम ने महज 32 सवाल ही पूछे हैं। जिनमें लंबित न्यायालय के मामले , बाल विवाह की जांच के उपाय, COVID-1 के कारण अन्य स्वास्थ्य मुद्दों की उपेक्षा, छात्रवृत्ति कार्यक्रमों के अल्पसंख्यक छात्र लाभार्थी रिक्त राजनयिक पद, बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुई कृषि भूमि जैसे सवाल शामिल हैं । सवाल पूछने के मामले में कांग्रेस सांसद की अटेंडेंस महज 8.1% रही हैं। वही कार्ति चिदंबरम की रेंकिंग 130वें स्थान पर हैं ।

लोकसभा की डिबेट्स में भी पीछे कांग्रेस सांसद 

अगर बात की जाए लोकसभा की डिबेट्स में हिस्सा लेने की तो कार्ति चिदंबरम इस मामले में बहुत पीछे नजर आते हैं । 323 लोकसभा डिबेट्स में से कार्ति चिदंबरम ने महज 7 लोकसभा की डिबेट्स में ही भाग लिया है। उनकी अटेंडेंस मात्र 2.17% रही हैं । कार्ति चिदंबरम की रेंकिंग 53वें स्थान पर है ।

कोई भी प्राइवेट मेंबर बिल नहीं लाए कार्ति चिदंबरम

वही अगर बात करे प्राइवेट मेंबर बिल की तो कार्ति चिदंबरम इसमें भी पीछे नजर आते हैं । कार्ति चिदंबरम की ओर से कोई भी प्राइवेट मेंबर बिल पेश नहीं किया गया है। ज्यादातर सांसदो को देखा गया है संसद में मिले विशेष अधिकार का उपयोग सांसद नहीं करते हैं।  प्राइवेट मेंबर बिल भी उसी का हिस्सा हैं। कार्ति चिदंबरम ने भी अभी तक कोई प्राइवेट मेंबर बिल पेश नहीं किया हैं इसमें उनकी रेकिंग शून्य है।

एमपी लैड में भी सुस्त

अगर बात करे एमपी लैड की तो कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम इसमें भी पिछड़ते दिखाई पड़ते हैं । कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम की ओर से महज 5 लाख रुपए एमपी लैड फंड से खर्च किए हैं। कार्ति चिदंबरम की ओर से अपने एमपी लैड का महज 1.% ही खर्च किया गया है । जिसमें कार्ति चिदंबरम की रेंकिंग 199वें स्थान पर है। वहीं ओवरऑल रैंकिंग में सांसद जी 362वें नंबर पर हैं।

कार्ति चिदंबरम को विरासत में मिली राजनीति 

कार्ति चिदंबरम के निजी व राजनीतिक जीवन की बात करे तो कार्ति चिदंबरम का जन्म 16 नवंबर सन् 1971 को तमिलनाडु के शिवगंगा में हुआ था । कार्ति चिदंबरम के पिता का नाम पी. चिदंबरम है कार्ति चिदंबरम की माता का नाम नलिनी चिदंबरम है। कार्ति चिदंबरम की पत्नी श्रीनिधि हैं कार्ति चिदंबरम ने अपनी शिक्षा तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से डॉन बोस्को स्कूल से की थी।  इसके बाद कार्ति चिदंबरम ने टैक्सेज यूनिवर्सिटी ऑस्टिन से सन् 1993 में बी.बी.ए. किया और यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज से सन् 1995 में कानून की पढ़ाई की थी। वही राजनीतिक जीवन की बात करे तो साल 2014 में कार्ति चिदंबरम ने अपने पिता की परंपरागत सीट शिवगंगा से लोकसभा का चुनाव लड़ा । शिवगंगा लोकसभा सीट पी. चिदंबरम का गढ़ मानी जाती रही हैं । पी. चिदंबरम शिवगंगा लोकसभा सीट से लगातार सांसद रहे हैं । लेकिन 2014 के लोकसभा चुनावों में पी. चिदंबरम ने अपने बेटे कार्ति चिदंबरम को कांग्रेस के टिकट पर चुनाव में उतारा लेकिन कार्ति चिदंबरम बुरी तरह हार गए और हार भी ऐसी हुई कि पी. चिदंबरम ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि जिस लोकसभा सीट से कई बार खुद वो सांसद रहे हैं उसी लोकसभा सीट पर उनका बेटा इतनी बुरी तरह हार जाएगा । 2014 के लोकसभा चुनाव में कार्ति चिदंबरम चौथे नंबर पर रहे । कार्ति चिदंबरम को महज 1 लाख वोटो के आस-पास वोट मिले । लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में कार्ति चिदंबरम ने बड़ी जीत दर्ज करते हुए अपने पिता के गढ़ को बरकरार रखा । 2019 के लोकसभा चुनाव में कार्ति चिदंबरम को करीब साढ़े 5 लाख वोट मिले और वो तीन लाख वोटो से चुनाव जीतने में सफल रहे ।

Tags:
Karti Chidambaram   |  MP Report Card   |  Shivganga   |  Tamil Nadu

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP