Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कोरोना को लेकर कर दी कौन सी बड़ी घोषणा!


Parliamentary Business Team
Parliamentary Business Team | 28 Mar, 2020 | 11:07 pm

कोरोना वायरस के दंश को झेल रहा भारत लगातार तमाम मोर्चों पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है। जहां एक तरफ कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं वहीं लॉकडाउन के फैसले ने देश की अर्थव्यवस्था को लेकर गहरी चिंता भी खड़ी कर दी है। सरकार ने 1.70 लाख करोड़ रुपए के पैकेज के ऐलान के साथ कोरोना से लड़ने के लिए मदद का ऐलान किया वहीं दूसरी तरफ आरबीआई ने ईएमआई से तीन महीने की राहत देकर मध्यवर्गीय लोगों को राहत की सांस दी है। 

Main
Points
लोकसभा अध्यक्ष ने की सांसद निधि से 1 करोड़ की राशि देने का अनुरोध
पत्र लिखकर सभी सांसदों से मांगी मदद
आंध्र प्रदेश के सांसद ने दिया सर्वाधिक 4 करोड़ रुपये
भारत मे कोरोना संक्रमित मरीज़ों की संख्या 900 के पार

लोकसभा अध्यक्ष ने की बड़ी घोषणा

सरकार और आरबीआई के बाद बारी थी लोकसभा की। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने लॉकडाउन के चौथे दिन एक अनूठी पहल की है। उन्होंने सभी सांसदगण से इस महामारी से लड़ाई के लिए किट मास्क, और अन्य चिकित्सीय उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सांसद निधि से कम से कम 1 करोड़ रुपये की धनराशि का योगदान करने का आग्रह किया है।

कोरोना से लड़ने के लिए सांसद आये आगे

लोकसभा स्पीकर के अनुरोध के पहले ही कई सांसद अपनी सांसद निधि का इस्तेमाल, इस महामारी से लड़ने के लिए कर चुके हैं। आंध्र प्रदेश के मछलीपट्नम से वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद बालाशोवरी वल्लभानेनी  ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपने एमपीलैड फंड से सर्वाधिक 4 करोड़ रुपये का योगदान दिया है। साथ ही उन्होंने आंध्र के सभी 28 सांसदों से भी आग्रह किया है कि वह भी योगदान करें।

विभिन्न दलों के सांसदों ने खोली झोली

संकट की घड़ी को भांपते हुए लोकसभा सांसद हेमा मालिनी,  ईबी ईडन, अखिलेश यादव, रामविलास पासवान, चिराग पासवान और फारूक़ अब्दुल्ला ने 1-1 करोड़ का योगदान दिया है। इनके अलावा केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान, महेंद्र नाथ पांडे ने भी क्रमशः 50 और 45 लाख का योगदान किया है।  कई सांसदों ने सांसद निधि से इतर व्यक्तिगत स्तर पर प्रधानमंत्री राहत कोष और स्थानीय जिला प्रशासन को वित्तीय सहायता प्रदान की है।

सांसद शशि थरुर ने लिखी थी चिठ्ठी

इससे पहले सांसद शशि थरूर ने सांख्यिकी राज्य मंत्री इंद्रजीत राव को चिट्ठी लिख यह अनुरोध किया था कि सांसद निधि से त्वरित चिकित्सीय उपकरणों की खरीद करने के लिए नियमों में ढील दी जाए।  हैदराबाद से सांसद असद्दुदीन ओवैसी ने भी कोरोना की जांच के लिए सांसद निधि के इस्तेमाल के लिए पीएमओ से आग्रह करते हुए कहा था कि कोरोना की जांच निशुल्क हो, इसका भार गरीब जनता पर न पड़े और सांसद अपने निधि का इस्तेमाल इस संदर्भ में कर सकें।

संक्रमण के अभी तक 900 मामले

भारत में अब तक कोरोना संक्रमण के 900 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। लोकसभा स्पीकर द्वारा की गई यह पहल देश मे 24 घंटे कार्यरत स्वास्थ्य कर्मचारियों सहित अन्य प्रशासनिक कर्मियों के लिए बड़ी मदद साबित होगी।

Tags:
loksabha   |  SAPA eakerombirla   |  fightagainst   |  Corona Virus   |  memberof-parliament

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP