Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

CSIR के साथ मिलकर चार दवाओं का ट्रायल कर रहा आयुष मंत्रालय

भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में जीतने के लिए आयुष मंत्रालय CSIR के साथ मिलकर देशभर में 4 दवाइयों का कोरोना मरीजों पर ट्रायल शुरू करने जा रहा है| इसकी जानकारी आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने दी है

PB Desk
PB Desk | 07 May, 2020 | 6:55 pm

दुनिया के साथ भारत भी कोरोना वायरस का प्रचंड प्रकोप झेल रहा है| देश में इस घातक कोरोना वायरस से अब तक करीब 52 हजार से भी ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और करीब 1783 लोगों की इस वायरस की वजह से जान जा चुकी है| इसी बीच कोरोना वायरस से जंग जीतने को लेकर भारत को आयुर्वेद में सफलता मिली है| जानकारी के मुताबिक आयुष मंत्रालय आयुर्वेद की दवाइयों का ट्रायल कोरोना संक्रमित मरीजों पर करने जा रहा है| इन दवाइयों का ट्रायल आयुष मंत्रालय दो दिन में शुरु करने वाला है जो 1000 मरीजों पर करीब 3 महीने तक किया जाएगा|

Main
Points
कोरोना से जंग जीतने के लिए तैयार आयुष मंत्रालय
देशभर में 4 दवाइयों पर ट्रायल कर रहा है स्वास्थ्य मंत्रालय
CSIR के साथ मिलकर काम कर रहा है आयुष मंत्रालय

CSIR के साथ मिलकर काम कर रहा है स्वास्थ्य मंत्रालय

आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने जानकारी दी है की स्वास्थ्य मंत्रालय, आयुष मंत्रालय और CSIR के साथ मिलकर तीन तरह का अध्ययन किया गया है और आयुष मंत्रालय यह ट्रायल समसामयिक अनुसंधान एवं विकास संगठन (CSIR)के साथ मिलकर कर रहा है|

देशभर में 4 दवाइयों पर शुरू किया जा रहा है ट्रायल

वैद्य राजेश कोटेचा ने कहा की आयुष मंत्रालय पुरे देश में चार दवाइयों पर ट्रायल करने के साथ बहुत बड़े सैंपल पर अध्ययन भी कर रहा है जो क्वारनटीन में है या हाई रिस्क पापुलेशन में हैं|इसमें सैंपल साइज़ 5 लाख का है| उन्होंने कहा की पीएम मोदी ने इम्युनिटी को लेकर जो सलाह आयुष मंत्रालय की दवाई को लेकर दी थी उसका असेसमेंट 50 लाख लोगों पर किया जा रहा है| चारों दवाइयां आयुर्वेद की हैं|

मुंबई, पुणे में शुरू होम्योपैथी और योग का ट्रायल 

आयुष मंत्रालय के सचिव ने आगे कहा की मुंबई, पुणे में होम्योपैथी और योग का ट्रायल शुरू हो गया है| वाद्य राजेश कोटेचा के मुताबिक रैंडोमाइज कंट्रोल ट्रायल के लिए 1000 मरीजों के सैंपल साइज पर ट्रायल किया जा रहा है| उन्होंने कहा की जो पापुलेशन बेस्ड असेसमेंट हैं उसपर 50 लाख का सैंपल साइज्ड है|

1000 सैंपल पर करीब 3 महीने तक अध्ययन

आयुष मंत्रालय नके सचिव ने आगे कहा की जो कोरोना के मरीज हैं, उसपर 1000 सैंपल पर करीब 3 महीने तक अध्ययन किया गया है और यह अगले दो दिन में देशभर में कई जगहों पर एक साथ किया जाएगा| ये प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाइयां हैं जिसके जरिए ट्रायल किया जाएगा| 

मुख्य रूप से 4 औषधि का इस्तेमाल

आयुष मंत्रालय के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने कहा की चार औषधि अश्वगंधा, गुडूची, पीपली, मुलेठी आयुष 64 हमारा रिसर्च है और इन दवाइयों के जरिए ट्रायल किया जाएगा|

Tags:
Corona Virus   |  antibiotics   |  Ayush   |  ministry   |  health ministry   |   secretary   |  CSIR   |   PM   |  Modi

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP