Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

मानसून सत्र : क्या होगी सरकार और विपक्ष की रणनीति

आज संसद के मानसून सत्र का आगाज हो रहा है। कोरोना के साये में इस बार का मानसून सत्र पूरे 40 दिन की देरी से शुरू हो रहा है। इसके चलते जहां एक सरकार अपने करीब 11 अहम अध्यादेशों को पारित कराने पर ध्यान लगाएगी, तो दूसरी ओर कांग्रेस ने चीन के साथ सीमा विवाद समेत अन्य मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई है। आइए जानते हैं मानसून सत्र को लेकर क्या खास है सरकार और विपक्ष के एजेंडे में ...

PB Desk
PB Desk | 14 Sep, 2020 | 8:19 am

आज कुछ ही देर बाद सुबह 9 बजे से संसद का मानसून सत्र शुरू होने वाला है। सत्र को लेकर सरकार और विपक्ष दोनों ने अपनी रणनीति तैयार कर ली है। जैसा कि हमेशा होता है केंद्र सरकार के एजेंडे में सत्र के दौरान अधिकांश बिल पेश करना और उन्हें पास कराना ही रहता है, तो इस बार भी ऐसा ही है। सरकार के एजेंडे की बात की जाए तो उसके पास करीब 11 अहम बिल पेंडिंग हैं, जिन्हें पास कराने का उसके ऊपर दबाव है। ऐसे सरकार का पूरा ध्यान इन बिल को पेश करने और इन्हें पारित कराने पर होगा। इससे वह एक पंथ दो काज भी करेगी कि बिल भी पास हो जाएं और विपक्ष को सवाल करने और हंगामा करने का अधिक अवसर भी न मिले।

Main
Points
सुबह 9 बने से एक बजे तक चलेगी सदन की कार्यवाही
सरकार के एजेंडें में 11 अहम अध्यादेश शामिल
चीन से विवाद समेत अन्य मुद्दे पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

विपक्ष के पास कई मुद्दों पर सवाल की रणनीति

विपक्ष के पास कई मुद्दों पर सवाल करने की ऱणनीति होगी। चीन सीमा विवाद सबसे गर्म मुद्दा है। प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पिछले लंबे समय से एक के बाद एक ट्वीट करके और बयान जारी करके चीन विवाद पर सरकार को घेरने की रणनीति अपना रखी है। अन्य दल भी चीन के मुद्दे को लेकर खासे मुखर हैं। हालांकि राहुल गांधी सत्र में मौजूद नहीं रहेंगे। गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ राहुल शुक्रवार को अमेरिका रवाना हो गए। ऐसे में कांग्रेस के दूसरे बड़े नेताओं पर इस बात की जिम्मेदारी होगी कि किस तरह इन मुद्दे पर वो सरकार को घेरेंगे। इसके लिए कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने समान विचारों वाले दलों के साथ मिलकर सरकार को आड़े हाथों लेने की रणनीति बनाई है।

महंगाई, बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था पर घेरेने की तैयारी

इसके अलावा महंगाई, बेरोजगारी और इकानमी के मोर्चे पर भी विपक्ष सरकार को घेरने की स्ट्रैटजी के साथ उतरेगा। एक और मुद्दा कोरोना महामारी को मैनेज करने के सवाल पर हो सकता है। यानी विपक्ष तो हर हाल में सरकार को घेरना ही चाहेगा। अब देखने वाली बात ये होगी कि किस तरह सरकार विपक्ष के जिज्ञासाओं को शांत करते हुए अपने अध्यादेशों को पारित करा पाती है।

Tags:
Monsoon Session   |  Strategy   |  Government   |  Opposition

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP