Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

बिहार के रण में अब नीतीश ने खेला आरक्षण का खेल

बिहार विधानसभा चुनाव में पहले फेज का मतदान हो चुका है और अब दूसरे चरण के मतदान होने बाकी हैं। दूसरे फेज के मतदान को लेकर सभी सियासी दल अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं ऐसे में जनता से कई वादे भी किए जा रहे हैं। इसी बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरक्षण को लेकर बड़ा दाव चला है।

PB Desk
PB Desk | 30 Oct, 2020 | 11:33 am

बिहार विधानसभा चुनाव में जिन्ना,पाकिस्तान,कश्मीर,चीन तो आ ही गया था लेकिन अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरक्षण का नाम भी चुनाव में ले लिया है। सीएम नीतीश ने बड़ा सियासी दाव चलते हुए आरक्षण को लेकर एक ऐसा बयान दिया है जिसने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जातियों को उनकी जनसंख्या के हिसाब से आरक्षण मिलना चाहिए। उनकी हमेशा यहीं राय रही है।

Main
Points
नीतीश ने आरक्षण पर दिया बड़ा बयान
आबादी के हिसाब से आरक्षण देने की बात
चुनावी रैली को संबोधित करते हुए दिया बयान

थारू जाति को साधने की कोशिश

मुख्यमंत्री ने अपना यह बयान वाल्मीकिनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए दिया। उन्होंने कहा कि जनगणना हम लोगों के हाथ में नहीं होती। लेकिन हम यहीं चाहते हैं कि जितनी लोगों की संख्या हो उसी हिसाब से जातियों को आरक्षण का लाभ मिले। थारू जाति के लोगों को आरक्षण का फायदा दिलाने के लिए वह सालों से मेहतन कर रहे हैं। सीएम ने कहा कि जब से मैं अटल जी की सरकार में रेल मंत्री था तभी से थारू जाति के लोगों को आरक्षण का फायदा दिलाने की कोशिश कर रहा हूं। थारू जाति के लोगों ने नीतीश कुमार के सामने आरक्षण का मुद्दा जोर शोर से उठाया था।

हर घर में बिजली

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार ने हर घर में बिजली पहुंचाई है। अब अगर हम सत्ता में आते हैं तो हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी। हमारी सरकार ने 6 लाख से ज्यादा लोगों को नौकरी दी है जबकि आरजेडी की सरकार लोगों को रोजगार देने में असफल रही थी।

Tags:
Bihar Election 2020   |   Nitish Kumar   |   First Phase Voting   |  RJD

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP