Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

पीएम की दीया अपील पर हमला, जानिए कैसे हुआ?


Riya Rai
Riya Rai | 05 Apr, 2020 | 2:56 pm

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि 5 अप्रैल को रात 9 बजे , 9 मिनट के लिए घर की लाईंटें बंद कर उजाल करें। प्रधानमंत्री की इस अपील पर सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं। एक ओर तमाम लोग पीएम के 'दीया अपील' का समर्थन कर रहे  हैं तो वहीं विपक्षी नेता इस अपील को ड्रामा बता रहे हैं।

Main
Points
पीएम के दीया अपील पर नेताओं का ट्विटर अटैक
सरकार की कोरोना से लड़ने के तैयारियों पर उठाए सवाल
कांग्रेस ने आधिकारिक अकांउट से किए अनेकों ट्वीट
विशेषज्ञों की सलाह को न मानने का सरकार पर लगया आरोप
ट्वीट कर सरकार से परीक्षण क्षमता बढ़ाने की मांग की

कांग्रेस का आरोप

'दीया अपील' पर कांग्रेस ने अपने  आधिकारिक सोशल मीडिया एकाउँट से कई ट्वीट किए और ICU बेड्स, वेन्टिलेटर्स, परिक्षण उपकरण और मेडिकल इक्विपमेंट्स पर प्रधानमंत्री को घेरा। कांग्रेस ने निशाना साधते हुए स्वास्थ्य व्यवस्था की माली हालत को देश के सामने उजागर करने की कोशिश की है। कांग्रेस ने पीएम पर इन तमाम सवालों से छिपने की कोशिश का भी आरोप लगाया है।

जानिए कांग्रेस के क्या हैं सवाल

कांग्रेस ने सवाल किया कि इस बात की  बार-बार मांग की जा रही है कि हमारे स्वास्थ्यकर्मियों को सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं लेकिन सरकार लगातार नजरअंदाज कर रही है। इस लड़ाई को लड़ने वाले लोगों के प्रति ऐसा रवैया उनके जीवन को खतरे में डाल रहा है। इसके साथ  ही कांग्रेस पार्टी ने पूछा कि डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी सुरक्षा उपकरणों के आभाव में लगातार बीमार हो रहे हैं। सरकर उन्हें जरुरी PPE कब तक उपलब्ध कराएगी?

इसके बाद कांग्रेस का एक और ट्वीट जिसमें लिखा गया “परीक्षण क्षमता को बढ़ाना समय की आवश्यकता है लेकिन यहाँ तो वर्तमान परीक्षण क्षमता का ही पूरा इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। सरकार किस बात का इंतजार कर रही है?” इसी ट्वीट में कांग्रेस ने सवाल किए की सरकार विशेषज्ञों की सलाह को नजरअंदाज क्यों कर रही है और परीक्षण क्षमता बढ़ाने से मना क्यों कर रही है ?

कांग्रेस ने ट्वीट्स कर सवाल में पूछा कि सरकार को इस लॉक डाउन के समय में देश के विभिन्न हिस्सों से सामने आई मूल्य वृद्धि के मुद्दों को संबोधित करने की आवश्यकता है। साथ ही इसी ट्वीट में  एक और सवाल किया कि सरकार सब्जियों, गैस और तेल के बढ़ते दाम को लेकर वित्तीय सहायता पैकेज की घोषणा कब करेगी?

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम का ट्वीट

इसी कड़ी में कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भी ट्वीट किया और लिखा, "हम आपकी बात सुनेंगे और 5 अप्रैल को दीया जलाएंगे ,बदले में आप भी अर्थशास्त्रियों की बात सुनें। आगे उन्होंने लिखा- आज हम आपसे उन गरीबों के लिए सहायता मांग रहे थे, जिसे वित्त मंत्री ने नजरअंदाज कर दिया था।"

शशि थरूर का फीलगुड ट्वीट-

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट किया और लिखा, 'प्रधान शोमैन नेता को सुना। उन्होंने लोगों की पीड़ा, बोझ और वित्तीय चिंताओं को लेकर कुछ नहीं कहा। यह सिर्फ फ़ोटो-ऑप प्रधानमंत्री द्वारा तैयार किया गया,फील-गुड-मोमेंट था।'

कपिल सिब्बल का ट्वीट

कपिल सिब्बल ने ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रिया दी और लिखा " मोदी जी तर्क का दीया जलाएं, अन्धविश्वास का नहीं।"

इसी क्रम में AIMIM प्रमुख असदुदीन ओवैसी ने भी ट्वीट कर प्रधानमन्त्री मोदी पर कड़ा हमला बोला “यह देश इवेंट मैनेजमेंट कंपनी नहीं है। भारत के लोग इंसान हैं जिनके सपने और उम्मीदें भी हैं। 9 मिनट की नौटंकी में हमारी ज़िन्दगी को कम मत करो।” इसी के साथ ओवैसी ने पीएमओ को टैग करते हुए लिखा, हम जानना चाहते थे कि राज्यों को क्या सहायता मिलेगी? लेकिन इसके बजाए हमें कुछ नया ड्रामा मिला। इस लड़ाई को लड़ने वाले लोगों के प्रति ऐसा रवैया उनके जीवन को खतरे में डाल रहा हैं। सरकर उन्हें जरुरी PPE कब उपलब्ध कराएगी?

Tags:
Corona   |  tweets   |  PMO   |  Congress   |  Shashi Tharoor   |  AIMIM   |  PM Modi

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP