Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

तिरंगे पर महबूबा मुफ्ती के बिगड़े बोल पर भड़की सियासत, बीजेपी ने पीडीपी दफ्तर पर फहराया तिरंगा

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती के तिरंगे को लेकर दिए गए बयान पर सियासी घमासान छिड़ गया है। महबूबा के बयान का बीजेपी ने जबरदस्त विरोध किया है। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश की है। तो उधर जम्मू में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीडीपी दफ्तर पर तिरंगा फहराया है।

PB Desk
PB Desk | 26 Oct, 2020 | 12:30 pm

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती के तिरंगे को लेकर दिए गए बयान पर बीजेपी आक्रामक है। कुपवाड़ा के बीजेपी कार्यकर्ताओं ने महबूबा मुफ्ती के खिलाफ प्रदर्शन किया और श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश की। पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि 4 बीजेपी कार्यकर्ता पुलिस की हिरासत में हैं। इस पूरे मसले पर बीजेपी तिरंगा यात्रा भी निकालेंगी। तो वहीं जम्मू में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीडीपी दफ्तर पर तिरंगा फहराया और महबूबा मुफ्ती के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया।

Main
Points
महबूबा के बयान पर भड़की बीजेपी
बीजेपी कार्यकर्ताओं का लाल चौक पर हंगामा
महबूबा ने दिया था तिरंगे पर विवादित बयान

महबूबा मुफ्ती के बयान के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। कई संगठनों ने महबूबा के खिलाफ राजद्रोह का केस करने की मांग की है। वहीं बीजेपी ने भी कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से महबूबा के खिलाफ शिकायत करते हुए मांग की है कि महबूबा मुफ्ती के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज हो। शिवसेना ने महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए कहा है कि इन दोनों नेताओं को पाकिस्तान भेज देना चाहिए।

महबूबा ने दिया था तिरंगे को लेकर बयान

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने तिरंगे को लेकर विवादित बयान दिया था। महबूबा ने कहा था कि जब तक अनुच्छेद 370 को फिर से लागू नहीं किया जाएगा तब तक कोई भी तिरंगे को नहीं थामेंगा। महबूबा ने यह बयान पीपुल्स अलायंस फॉर डिक्लेरेशन की बैठक के दौरान दिया था। इस दौरान नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि हमारा मकसद कश्मीर के लोगों को न्याय दिलाना है। हम देश का विरोध नहीं कर रहे हैं।

पीपुल्स अलायंस फॉर डिक्लेरेशन क्या है?

गुपकार (पीपुल्स अलायंस फॉर डिक्लेरेशन ) नाम का कश्मीरी नेताओं का गठबंधन है जिसके तहत कश्मीर के सभी बड़े नेता एक मंच पर आए हैं। इस मंच के सहारे यह सभी अनुच्छेद 370 को फिर से लागू करने की मांग कर रहे हैं। फारूक अब्दुल्ला को पीपुल्स अलायंस फॉर डिक्लेरेशन का अध्यक्ष बनाया गया है तो वहीं पीडीपी प्रमुख महबूबा इसकी उपाध्यक्ष हैं।

Tags:
Jammu Kashmir   |  BJP   |  PDP   |  Mehbooba Mufti   |  Article 370

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP