Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

पंचायती दिवस पर प्रधानमंत्री की नई योजना, अब हल होंगे सारे संपत्ति विवाद

प्रधानमंत्री ने पंचायत प्रतिनिधियों से संवाद के दौरान इस महामारी से लड़ाई के लिए एक नया मंत्र दिया। उन्होंने प्रतिनिधियों से अपील की कि वह अपने पंचायतों में लोगों के बीच दो गज की दूरी का अनुपालन करायें। जम्मू-कश्मीर, बिहार, यूपी समेत कई राज्यों के सरपंचों से सीधा संवाद कर महामारी से लड़ने के प्रयासों की जानकारी ली साथ ही देश के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की सराहना भी की।

Ankit Mishra
Ankit Mishra | 24 Apr, 2020 | 4:33 pm

वीडियो स्टोरी भी देखें

कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के सरपंचों के साथ आज संवाद किया। पंचायती राज दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री ने सुबह देश के ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित किया। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय पंचायती राज मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे। इस संवाद से पूर्व प्रधानमंत्री ने ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और स्वामित्व योजना की भी शुरुआत की।

Main
Points
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर के सरपंचों के साथ किया संवाद
ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और स्वामित्व योजना की हुई शुरुआत
प्रधानमंत्री ने की लोगों से अपील, दो गज की दूरी का अनुपालन करने को कहा

क्या है स्वामित्व योजना

स्वामित्व योजना की शुरुआत ग्रामीण क्षेत्रों में व्याप्त व्यापक जमीन विवादों को ध्यान में रखते हुए किया गया है। इस योजना के तहत ड्रोन के माध्यम से पूरे गांव की मैपिंग की जाएगी और उस मैपिंग से तैयार संपत्ति के नक़्शे के हिसाब से संपत्ति स्वामियों को प्रमाणपत्र दिया जाएगा। इससे संपत्ति को लेकर भ्रम और झगड़े खत्म होंगे जिससे गांव में विकास योजनाओं की योजना बनाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस योजना की शुरआत प्रारंभिक तौर पर महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक सहित 6 राज्यों में किया जा रहा है। इसके बाद इसकी कमियों को दूर करके पूरे देश में लागू किया जायेगा।

ई-ग्राम स्वराज पंचायत पोर्टल

पंचायती राज दिवस के अवसर पर सरकार की तरफ से ग्राम पंचायतों को दूसरा तोहफ़ा ई-ग्राम स्वराज पोर्टल एवं मोबाइल ऐप के रूप में मिला। इस पोर्टल की सहायता से ग्रामवासी अपने पंचायत के विकास कार्यों से संबंधित फंड और कार्य की प्रगति की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस पोर्टल के माध्यम से पंचायतों में पारदर्शिता आएगी और परियोजनाओं के काम में भी तेजी आएगी। उनके मुताबिक इस ऐप के माध्यम से ग्रामीणों को बड़ी शक्ति मिलने वाली है।

दो गज की दूरी

प्रधानमंत्री ने पंचायत प्रतिनिधियों से संवाद के दौरान इस महामारी से लड़ाई के लिए एक नया मंत्र दिया। उन्होंने प्रतिनिधियों से अपील की कि वह अपने पंचायतों में लोगों के बीच दो गज की दूरी का अनुपालन करायें। जम्मू-कश्मीर, बिहार, यूपी समेत कई राज्यों के सरपंचों से सीधा संवाद कर महामारी से लड़ने के प्रयासों की जानकारी ली साथ ही देश के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की सराहना भी की। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस संकट के बीच ग्रामीण बड़े-बड़े विद्वानों के लिए भी प्रेरणा का श्रोत बन रहे हैं। ग्रामीणों के प्रयास से ही आज दुनिया में चर्चा हो रही है कि कोरोना को भारत ने किस तरह जवाब दिया।

पंचायत प्रतिनिधि हुए सम्मानित

देश भर के पंचायतों में से कुछ प्रतिनिधियों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए पंचायती राज दिवस के  अवसर पर सम्मानित भी किया है। प्रधानमंत्री ने देश के अन्य पंचायत प्रतिनिधियों से भी इन सम्मानित प्रतिनिधियों से प्रेरणा ले काम करने का आग्रह किया। प्रतिनिधियों से संवाद के दौरान उन्होंने लॉकडाउन के दौरान लोगों को हो रही असुविधा के बारे में भी जानकारी ली।

प्रधानमंत्री ने कोरोना से लड़ाई को जीतने के लिए प्रतिनिधियों से अपील की कि वह हर एक ग्रामीण के फ़ोन में आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड कराएं और आरोग्य मंत्रालय के वेबसाइट पर उपलब्ध गाइडलाइन के मुताबिक ग्रामीणों को प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए प्रेरित करें।

Tags:
arendra modi   |  panchaya tidiwas   |  swamit wayojna   |  Corona

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP