Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट से क्या हार पाएगा कोरोना


Alisha
Alisha | 12 Apr, 2020 | 3:34 pm

दुनिया भर में कोरोना वायरस को लेकर हर जगह जंग जारी है। एक तरफ दुनिया के कई देश आइसोलेशन जैसे कड़े कदम उठा रहें हैं, तो वहीं दूसरी तरफ देश के बड़े-बड़े वैज्ञानिक इस बीमारी का इलाज ढूंढ़ने में जी जान लगा कर महनत कर रहे है। अगर देखा जाए तो, सबसे बड़ी समस्या हमारे सामने बड़ी संख्या में टेस्ट की है।

Main
Points
भारत में रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट किए जायेंगे शुरू
एंटी बॉडी टेस्ट होते है सस्ते
पीसीआर टेस्ट के नतीजों से पहले आते है इस टेस्ट के नतीजे

हॉट-स्पॉट पर की जाएगी सबसे पहले टेस्टिंग

कोरोना को रोकने के लिए अब रैपिड टेस्ट किए जाएंगे। ये टेस्ट सबसे पहले वहां होंगे जहां पर कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या सबसे ज़्यादा पाई गई है।सरकार ने फैसला किया है कि वह मेडिकल स्टाफ को करीब 7 लाख किट देगी। आपको बता दें दिल्ली सरकार ने भी अब टेस्टिंग पर ज़ोर देने की बात कही है। वो दिल्ली के हॉटस्पॉट इलाके पर सबसे पहले टेस्ट करना शुरू करेगी जैसे दिल्ली के दो सबसे बड़े हॉट-स्पॉट दिलशाद गार्डन और निज़ामुद्दीन बताए गए हैं। हालाँकि ये भी बताया जा रहा है कि, कोरोना से जीतने के लिए हमें प्रति 10 लाख आबादी पर टेस्ट करने होंगे।

रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट और पीसीआर में क्या अंतर है

फिलहाल सरकार कोरोना वायरस की जांच पीसीआर से कर रही है, इस टेस्ट में मरीज़ के गले या नाक से नमूने लिए जाते हैं, और आपको बता दें इस जांच में लग भग 5 घंटे के बाद पता चलता है की व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित है या नहीं। दूसरी तरफ बात हम एंटी बॉडी टेस्ट की करें तो इस टेस्ट में व्यक्ति की ऊँगली से खून के सैंपल लेकर जांच की जाती है और इसके नतीजे 30 मिनट में आ जाते हैं।

रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट क्या है?

रैपिड एंटी बॉडी की जानकारी आईसीएमआर के हेड साइंटिस्ट डॉ आर गंगाखेड़कर ने दी। रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट से ये साबित नहीं होता है कि, किसी शख़्स को कोरोना वायरस है या नहीं,बल्कि ये पता चलता है की उस शख़्स में कोरोना वायरस से लड़ने वाली ऐंटीबॉडी बन रहीं है या नहीं। आपको बता दे की डॉ गंगाखेड़कर ने ये भी बताया की इस टेस्ट से  ये भी पता चल जाता है कि, शरीर में पहले कोरोना आ चुका है या नहीं। अगर एंटी बॉडी टेस्ट पॉजिटिव आता है तो उसे पीसीआर टेस्ट करवाने की सलाह  दी जाती है।

कौन सा टेस्ट है बेहतर? 

अगर यहां हम बात करे टेस्ट कौन सा अच्छा है तो, आपको बता दें दोनों टेस्ट ही ज़रूरी होते है, क्योकि एंटी बॉडी टेस्ट से ये साबित नहीं होता है, कि व्यक्ति संक्रमित है या नहीं। संक्रमित होने का पता तो सिर्फ पीसीआर टेस्ट से होता  है। पर अगर तुलना की भी जाए तो एंटी बॉडी टेस्ट बेहतर माना जाता है, क्योंकि ये सिर्फ 3000 रुपए में हो जाता है, जबकि पीसीआर टेस्ट का ख़र्च 4500 रुपए है। अगर बात हम अब टेस्ट में लगने वाले समय  की करे तो पीसीआर टेस्ट में नतीजे आने में दो से तीन लगते हैं, तो वहीं रैपिड एंटी बॉडी में आधा घंटे में नतीजे सामने आ जाते  हैं। इसलिए सरकार ने निर्णय लिया है कि, वो अब देश में रैपिड एंटी बॉडी टेस्ट ही शुरू करेगी

Tags:
Corona Virus   |  PCR   |  anti bod ytest   |  ICMR

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP