Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKOUT OF

ड्रग्स कनेक्शन पर जया के बयान से गदगद है शिवसेना

सुशांत सिंह राजपूत मामले में ड्रग्स कनेक्शन की जांच जारी है। बॉलीवुड के कई सितारे एनसीबी की रडार पर हैं। वहीं ये मामला संसद में भी गूंज रहा है। जहां एक ओर रवि किशन ने मामले में जांच की मांग की थी वहीं राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने रवि किशन पर जोरदार हमला बोला था। इन सबके बीच शिवसेना काफी खुश नजर आ रही है। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में जया बच्चन की तारीफों के पूल बांधे हैं।

PB Desk
PB Desk | 16 Sep, 2020 | 1:30 pm

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मामला दिन-ब-दिन तूल पकड़ता जा रहा है। पहले ये एक केस के तौर पर सामने आया था लेकिन एनसीबी की जांच ने इसे एक नया मोड़ दे दिया। ड्रग्स कनेक्शन की जांच कर रही एनसीबी की रडार पर कई सेलेब्स हैं। वहीं रिया चक्रवर्ती समेत कई अन्य गिरफ्तार भी किए गए हैं। अब मायानगरी का ये मामला संसद में भी तूल पकड़ता नजर आ रहा हैं। मामले में सांसद आमने-सामने आ गए हैं। इस बीच शिवसेना की खुशी का ठिकाना नहीं है। दरअसल, लोकसभा सांसद रवि किशन ने बॉलीवुड के ड्रग्स कनेक्शन का मामला सदन में उठाया था और जांच की मांग की थी। इसके बाद राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने सत्र की कार्यवाही के दौरान रवि किशन पर निशाना साधा था। जिससे शिवसेना काफी खुश है और उसकी खुशी सामना से नजर आ रही है। सामना में फिल्म अभिनेत्री जया बच्चन की जमकर तारीफ की गई है।

Main
Points
जया के बयान पर शिवसेना खुश
सामना में सांसद की तारीफों के पूल
कहा बेबाक हैं जया बच्चन

सामना में झलकी शिवसेना की खुशी

शिवसेना के मुखपत्र सामना में जया बच्चन की तारीफ की गई है। साथ ही उन्हे बेबाक ठहराया गया है। सामना में लिखा गया है कि हिंदुस्थान का सिनेजगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा दावा कोई नहीं करेगा। लेकिन जैसा कि कुछ टीनपाट कलाकार दावा करते हैं कि सिनेजगत ‘गटर’ है, ऐसा भी नहीं कहा जा सकता। श्रीमती जया बच्चन ने संसद में इसी पीड़ा को व्यक्त किया है। ‘जिन लोगों ने सिनेमा जगत से नाम-पैसा सब कुछ कमाया। वे अब इस क्षेत्र को गटर की उपमा दे रहे हैं। मैं इससे सहमत नहीं हूं।’ श्रीमती जया बच्चन के ये विचार जितने महत्वपूर्ण हैं, उतने ही बेबाक भी हैं। ये लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं। ऐसे लोगों पर जया बच्चन ने हमला किया है। श्रीमती बच्चन सच बोलने और अपनी बेबाकी के लिए प्रसिद्ध हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक और सामाजिक विचारों को कभी छुपाकर नहीं रखा।

बेबाकी से रखती हैं अपनी बात

इतना ही नहीं सामना में ये भी लिखा गया है कि जया बच्चन ने महिलाओं पर अत्याचार के संदर्भ में संसद में बहुत भावुक होकर आवाज उठाई है। ऐसे वक्त जब सिनेजगत की बदनामी और धुलाई शुरू है, अक्सर तांडव करनेवाले अच्छे-खासे पांडव भी जुबान बंद किए बैठे हुए हैं। मानो वे किसी अज्ञात आतंकवाद के साए में जी रहे हैं और कोई उन्हें उनके व्यवहार और बोलने के लिए परदे के पीछे से नियंत्रित कर रहा है। परदे पर वीरता और लड़ाकू भूमिका निभाकर वाहवाही प्राप्त करनेवाले हर तरह के कलाकार मन और विचारों पर ताला लगाकर पड़े हुए हैं। ऐसे में श्रीमती बच्चन की बिजली कड़कड़ाई है। मनोरंजन उद्योग रोज पांच लाख लोगों को रोजगार देता है। फिलहाल अर्थव्यवस्था उद्ध्वस्त हो चुकी है और जब ‘लाइट, कैमरा, एक्शन’ बंद है, लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से हटाने के लिए हमें (मतलब बॉलीवुड को) सोशल मीडिया पर बदनाम किया जा रहा है। इसके साथ ही ये भी लिखा गया है कि बॉक्स ऑफिस को हमेशा चलायमान रखने के लिए आमिर, शाहरुख और सलमान जैसे ‘खान’ लोगों की भी मदद हुई ही है। ये सारे लोग सिर्फ गटर में लेटते थे और ड्रग्स लेते थे, ऐसा दावा कोई कर रहा होगा तो ऐसी बकवास करनेवालों का मुंह पहले सूंघना चाहिए।

जया को मिला हेमा का साथ

वहीं जया बच्चन के समर्थन में हेमा मालिनी भी उतर गई हैं। एक न्यूज पोर्टल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि सिर्फ बॉलीवुड की ही बात क्यों हो रही है। कई इंडस्ट्री में ऐसा होता है। हमारी इंडस्ट्री में भी हो रहा होगा। लेकिन इसका मतलब ये तो नहीं कि पूरी इंडस्ट्री खराब है। जिस तरह बॉलीवुड को निशाना बनाया जा रहा है, वो गलत है। ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

Tags:
Shiv Sena   |  Jaya Bachhan   |  Drugs   |  Sushant Singh Rajput   |  Ravi Kishan   |  NCB   |  Rajya Sabha

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP