Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

हरियाणा के रेड,ग्रीन,ऑरेंज जोन में दी जायेगी कुछ ढ़ील

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि 17 मई तक चलने वाले लॉकडाउन-3.0 के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोग सरकार का सहयोग करेंगे और उन्हें हरियाणा की जनता से पूरी उम्मीद है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बताई गई दो गज दूरी बनाए रखने के बारे में ध्यान रखना होगा

Srishti Narwal
Srishti Narwal | 03 May, 2020 | 5:46 pm

लॉकडाउन  का  तीसरा चरण शुरू हो  चूका है जिसके चलते  हरियाणा सरकार रेड ऑरेंज और ग्रीन जोन के लिहाज से विभिन्न बंदिशों में कुछ हद तक ढील दे सकती है जिसके लिए सरकार ने पूरी  तैयारी कर ली है। सभी जिलों के उपायुक्तों पर सरकार द्वारा दी जाने वाली ढील के साथ-साथ  सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने पर भी ध्यान देना होगा।

Main
Points
हरियाणा परिवहन की बसों को सवारियों की कुल क्षमता के 50 प्रतिशत के साथ ही चलाने की अनुमति
स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, मॉल, सिनेमा घर, जिम, धार्मिक स्थान रहेंगे बंद
बाजार व दुकानें सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर खोली जाएंगी

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने  बताया कि 17 मई तक चलने वाले लॉकडाउन-3.0 के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोग सरकार का सहयोग करेंगे और उन्हें  हरियाणा की जनता से पूरी  उम्मीद  है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बताई गई दो गज दूरी बनाए रखने के बारे में ध्यान रखना होगा।

आपको बता दे हरियाणा के  ग्रीन जोन में हरियाणा परिवहन की बसों को सवारियों की कुल क्षमता के 50 प्रतिशत के साथ ही चलाने की अनुमति दी जाएगी। स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, मॉल, सिनेमा घर, जिम, धार्मिक स्थान इस बीच  बंद रहेंगे। बाकी सभी बाजार व दुकानें सोशल डिस्टेंसिंग  के मद्देनजर खोली जाएंगी। और हरियाणा के ऑरेंज जोन में केवल बसों को चलाने के अलावा सभी ग्रीन ज़ोन वाली  गतिविधियां संचालित होगी। 

रेड जोन में नाई, स्पा-सैलून, ऑटो, टैक्सी इत्यादि और आवागमन गतिविधयां प्रतिबंधित रहेंगी। केवल कंटेनमेंट जोन में  आवश्यक वस्तुओं व सेवाओं की ही अनुमति दी जाएगी। साथ ही 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे व 65 वर्ष से अधिक आयु के वृद्धजनों को घरों से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। इतना ही नही शाम 7 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक  किसी को भी जरूरी काम के अलावा घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं डीई जाएगी।

कोरोना संक्रमण के चलते 2 महीनों में सरकार को 10 हजार करोड़ से ज्यादा का नुकसान सहना पड़ा। मुख्यमंत्री ने बताया  कि आर्थिक गतिविधियां रुकने के कारण पिछले दो महीने से राजस्व प्राप्तियां न के बराबर रही हैं और कर्मचारियों को वेतन, पेंशन व सरकार के अन्य खर्चों के लिए हर महीने लगभग 10 हजार करोड़ रुपये की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा कि 30 अप्रैल को मंत्रिमंडल बैठक में हमने आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए कुछ निर्णय लिए है, इससे लगभग 70 से 80 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त होने का अनुमान है।  उनके अनुसार सरकार के नाते हम तो जनता के ट्रस्टी के रूप में कार्य कर रहे हैं, सरकार के इस निर्णय से जो भी राजस्व संग्रहण होगा वो भी जनता के हित में जनता के लिए ही खर्च किया जाएगा। 

Tags:
Corona   |  Covid-19   |  quarantine   |  haryana   |  Lockdow

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP