Your image is ready, you can save / share this image
Please wait!
#MPsPerformance


%
RANKINGOUT OF

पश्चिम बंगाल में राज्यपाल और सीएम के बीच जुबानी जंग


PB Desk
PB Desk | 04 May, 2020 | 6:19 pm

इस करोना ने राजनीति को  भी कसैला कर दिया हैं। करोना के खिलाफ लड़ाई में जहां सभी राज्य की सरकारें अपनी पूरी ताकत के साथ जनता को बचाने में लगी है हर संभव मदद करने का दावा कर रही है ठीक उसी तरह का दावा केंद्र सरकार का  भी है। लेकिन एक दूसरी सच्चाई ये है कि देश के भी लॉक डाउन से उपजी स्थियों ने कामगार मजदूरों और आम लोगो की परेशानी बढ़ा दी है। उधर अगले साल पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव होने हैं। बीजेपी की नजर बंगाल में सरकार बनाने पर टिकी है और इसके लिए वह हर समय ममता सरकार की खिंचाई करती नजर आती है। जबकि ममता सरकार हर हाल में बीजेपी को सत्ता के नजदीक नहीं आने देना चाहती। मूल खेल यही है। लेकिन अभी करोना के बहाने प्रदेश में राज्यपाल और ममता के बीच में जबानी जंग जारी है।

Main
Points
राज्यपाल धनखड़ और सीएम ममता के बीच छिड़ी जुबानी जंग
बीजेपी की नजर बंगाल में सरकार बनाने पर टिकी है
ममता सरकार हर हाल में बीजेपी को सत्ता के नजदीक नहीं आने देना चाहती

यह बात और है कि राज्यपाल धनखड़ और सीएम ममता के बीच पिछले कई दिनों से जुबानी जंग छिड़ी हुई है। अब राज्यपाल जगदीप धनकड़ ने ममता बनर्जी को पत्र लिख कर कहा है कि दुर्भाग्यवश पश्चिम बंगाल 'पुलिस राज्य' बनता जा रहा है। अपने पत्र में जगदीप धनखड़ ने लिखा है कि पश्चिम बंगाल के लोगों को पता है कि सरकार और सिंडिकेट कौन चलाता  है। पत्र में आगे लिखा है कि संवैधानिक मानदंडों के बारे में आपका गलत रुख तानाशाही दर्शाता है जिसका लोकतंत्र में कोई स्थान नहीं है। यह पहला मौका नहीं है जब राज्यपाल ने ममता सरकार को घेरा है। इससे पहले राज्य राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कोविड-19 की स्थिति को संभालने में कथित विफलता को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी निशाना साध चुके हैं। राज्यपाल ने दिल्ली में तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम का संदर्भ देते हुए ममता पर अल्पसंख्यक समुदाय के 'खुलेआम तुष्टीकरण' का आरोप लगाया था। 

धनखड़ ने बनर्जी की ओर से उन्हें लिखे पत्र का जिक्र भी किया था जिसमें मुख्यमंत्री ने राज्यपाल पर सरकार के कामकाज में 'लगातार दखल देने का आरोप लगाया था। ममता ने उन्हें याद दिलाया था कि वह इस गौरवशाली राज्य की निर्वाचित मुख्यमंत्री हैं और वह एक मनोनीत राज्यपाल। धनखड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री का गुस्सा राज्य में कोविड-19 वैश्विक महामारी से निपटने में ''बड़ी विफलताओं पर पर्दा डालने की एक रणनीति है।

Tags:
Covid-19   |  West Bengal   |   CM   |  Mamta   |  Governor   |  WB

Stories for you

SEARCH YOUR MP

Or

Selected MP